आशीर्वाद की ताकत, कैथरीन पोंडर, समृद्धि युग का रहस्य, The Prosperity Secrets of the Ages, When to do blessings, when you feel extremely angry, शरीर में दर्द या बीमारी होने पर, when you feel chronic pain, बॉस या सहकर्मी के समस्या पैदा करने पर, when boss or colleague is annoying, बिल के अधिक होने पर, when your bills exceed your income, यात्रा के लिए निकलने पर, when are you going to travel, कर अधिक होने पर, when your taxes are too high, bless strangers, सम्बन्ध कैसे सुधारें, when your relationships keep failing, when situations are out of your control, क्यों दें सबको आशीर्वाद, why to bless all, सबको करें क्षमा, why is it important to forgive others,
आशीर्वाद की ताकत आपकी हर समस्या हल कर सकती है।

आशीर्वाद की ताकत आपकी हर समस्या हल कर सकती है यहाँ तक कि यदि आपका बॉस या सहकर्मी जो आपके काम को मुश्किल बनाता है। आप इस परिस्थिति एवं उस व्यक्ति को सकारात्मकता से भरपूर आशीर्वाद दें। आपके इस आशीर्वाद की ताकत से वो आपको परेशान करना बंद कर देगा। 

आशीर्वाद की ताकत के विषय में बात करने से पहले एक छोटा सा प्रश्न, जब आपके साथ कुछ गलत होता है तो आप उसे आशीर्वाद देते हैं या उसे कोसते हैं? वास्तव में हमारी स्वाभाविक प्रतिक्रिया अक्सर हमें नकारात्मक विचारों की ओर ले जाती है, लेकिन यह केवल नकारात्मकता को ही जन्म देती है। आशीर्वाद की ताकत इसी समस्या का हल है।

‘कैथरीन पोंडर’ ने अपनी पुस्तक ‘समृद्धि युग का रहस्य’ (‘The Prosperity Secrets of the Ages’) में ‘लोगों और परिस्थितियों को आशीर्वाद देने या उनके लिए प्रार्थना करने के बारे में बात की। यह एक बहुत शक्तिशाली उपकरण है और तुरंत सफलता को कई गुना बढ़ा देता है। ये एक बहुत ही सरल तरीका है किसी व्यक्ति या किसी चीज़ के लिए एक अच्छी सकारात्मक प्रार्थना करने का। कैथरीन पॉनडर का एक पसंदीदा कथन है, “मैं तुम्हें आशीर्वाद देता हूँ/देती हूँ, और तुम्हारे भीतर जो भगवान की भलाई है, उसके लिए तुम्हें आशीर्वाद देता हूं/देती हूँ।”

इस तरह के आशीर्वाद आप अपने लिए खुद बना सकते हैं। जब आप किसी व्यक्ति के को सकारात्मक विचार या स्पंदन (vibrations) भेज रहे होते हैं तो वे तरह-तरह की प्रतिक्रिया देते हैं। यह हमेशा उन्हें कोसने से बेहतर परिणाम है।

आशीर्वाद की ताकत ऐसे बदल सकती है आपका जीवन:   

आशीर्वाद का उपयोग कब करें? (When to do blessings)

1. अत्यधिक क्रोध आने पर: (when you feel extremely angry)

जब भी आपको किसी पर क्रोध आ रहा होता है, या आप उससे असहमत हैं किन्तु बता नहीं पा रहे, उस समय आप आशीर्वाद दें, उनके लिए प्रार्थना करें। कैथरीन अपनी पुस्तक में कई लोगों के उदाहरण पेश करती है, जो सकारात्मक प्रार्थना या आशीर्वाद के बाद सम्मानपूर्वक अपना ऋण चुकाने में सफल रहे। सम्मानपूर्वक  चुकाया।

2. शरीर में दर्द या बीमारी अनुभव होने पर: (when you feel chronic pain)

जब आपके शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द या बीमारी का अनुभव हो। आप खुद को और अपनी भावनाओं को भी आशीर्वाद दे सकते हैं।

यहाँ पढ़ें: एंजेल थेरेपी क्या है?

3. बॉस या सहकर्मी के समस्या पैदा करने पर: (when boss or colleague is annoying)

आपका बॉस या सहकर्मी जो आपके काम को मुश्किल बनाता है। आप इस परिस्थिति एवं उस व्यक्ति को सकारात्मकता से भरपूर आशीर्वाद दें। वो आपको परेशान करना बंद कर देगा।

4. बिल के अधिक होने पर: (when your bills exceed your income)

हमेशा बिल को कोसें नहीं, अपितु उन्हें आशीर्वाद दें। अपने बिल और अपने लेनदारों को आशीर्वाद दें। उनके द्वारा प्रदान की गई सेवा के लिए उन्हें धन्यवाद दें। एक बार जब आप ऐसा करना शुरू कर देंगे, तो आपके पास भुगतान करने के लिए हमेशा पैसे होंगे।

5. यात्रा के लिए निकलने पर: (when are you going to travel)

अपनी यात्रा योजनाओं को आशीर्वाद दें और उन्हें सुचारू रूप से चलते हुए देखें। आपकी यात्रा यादगार बन जाएगी, इतनी है आशीर्वाद की ताकत।

6. कर अधिक होने पर: (when your taxes are too high)

अपने करों को आशीर्वाद दें। इससे आपके अधिक से अधिक कर देने के योग्य हो जाएंगे। दुसरे शब्दों में आपकी आय में वृद्धि होगी।

यहाँ पढ़ें: कर्मों का फल हैं ये 4 प्रकार के पुत्र

7. राजनेताओं को दें आशीर्वाद: (bless your politicians)

राजनेताओं को बुद्धिमता के साथ सर्वोत्तम निर्णय लेने के लिए आशीर्वाद देने की आवश्यकता है। उन्हें आशीर्वाद देना उनके बारे में शिकायत करने से कहीं अधिक मदद करेगा।

8. अजनबी को दें आशीर्वाद: (bless strangers)

उस अजनबी को भी आशीर्वाद दें जिसे आप रास्ते, बाजार, मॉल या किसी दुकान में मिलते हैं। खरीदारी करते समय आप अपने मन मस्तिष्क में ऐसा कर सकते हैं।

9. सम्बन्ध सुधारने के लिए: (when your relationships keep failing)

अपने रिश्तों को आशीर्वाद दें, उनका धन्यवाद् करें। वो रिश्ते जो आपके परिवार, मित्रों और अन्य लोगों के साथ हैं। जब आपको लगे कि वे आपको चोट पहुँचा रहे हैं, तो उन्हें आशीर्वाद दें। “गलत” के बारे में चिंता न करें। यदि किसी ने आपका कुछ बुरा किया है या बुरा कहा है तो उस गलत के विषय में सोचना बंद करते ही रिश्ते जल्दी से ठीक हो जाते हैं।

10. परिस्थितियों के जटिल होने पर: (when situations are out of your control)

आप किसी भी परिस्थिति को आशीर्वाद दे सकते हैं। ऐसा करने से परिस्थिति के विषय में आपके विचार भी बदल जाते हैं। आप सकारात्मक हो जाते हैं और इससे होने वाले बदलाव जादुई होते हैं। 

यहाँ देखें: विश्व प्रसिद्ध श्री कृष्ण शलाका प्रश्नावली

क्यों दें सबको आशीर्वाद? (why to bless all)

एम्मेट फॉक्स ने कहा, “एक चीज़ को आशीर्वाद दें और यह आपको आशीर्वाद देगी। किसी एक चीज़ को कोसें और वह तुम्हे कोसेगी। यदि आप जीवन में किसी भी चीज़ की निंदा करते हैं, तो यह वापिस आपकी और पलट कर वार करेगी और आपको चोट पहुंचाएगी। यदि आप किसी स्थिति को आशीर्वाद देते हैं, तो उसकी आपको चोट पहुँचाने की क्षमता समाप्त हो जाएगी। अब चाहे वह परिस्थिति चाहे ही आपको परेशानी दे सकती हो, उसकी यह नकारात्मक क्षमता धीरे-धीरे मिट जाएगी। यदि आप ईमानदारी से इसे आशीर्वाद देते हैं।”

दूसरों को क्षमा करने से बदल जायेगा जीवन: (why is it important to forgive others)

आपके मन की दूसरों को क्षमा करने की आदत एक चुंबकीय शक्ति पैदा करती है जो सौभाग्य को आकर्षित करती हैं। 

इन लोगों को अवश्य भेजें आशीर्वाद की ताकत: (bless these people)

हमेशा याद रखें कि खुश लोग मतलबी या असभ्य नहीं होते। इसलिए अपना आशीर्वाद उन लोगों को भेजें जो दूसरों के साथ क्रूर व्यवहार करते हैं। यदि वे खुश हो जाते हैं, तो वे अपने व्यवहार को बदल देंगे और सभी को लाभ होगा। भले ही चीजें अचानक ठीक नहीं होंगी, लेकिन निश्चित तौर पर स्थिति या व्यक्ति पहले से बेहतर होते महसूस होंगे। 

लेखिका: एंजेल थेरापिस्ट कामिनी मेंदिरत्ता 

13th TV यूट्यूब पर

यह लेख, रेकी हीलर कामिनी मेहन्दीरत्ता जी द्वारा बताये गए उपाय के अनुसार लिखा गया है। कामिनी मेहन्दीरत्ता जी ना सिर्फ एक अच्छी रेकी हीलर हैं, बल्कि एक एंजेल थेरेपिस्ट भी हैं। अपनी इस कला के साथ अलग अलग तरह के एक्सपेरिमेंट करने के उनके स्वाभाव ने उन्हें इस क्षेत्र में एक अलग पहचान दिलाई है। वे अब तक कैंसर तथा हर्निया जैसी बिमारियों का भी उपचार कर चुकी हैं। 13th TV उनका आभारी है कि उन्होंने अपने इस ज्ञान को आप तक पहुँचाने के लिए हमें साधन के रूप में चुना।