यदि आप पितृ दोष निवारण का सरल उपाय खोज रहे हैं तो याद रखें सही समय तथा सही विधि से श्राद्ध करने का उपाय ही आपको पितृ दोष से मुक्ति दिलाएगा

यदि आपको श्राद्ध कर्म विधि या श्राद्ध के नियम का पूरा ज्ञान है तो आपको इस बात का ज्ञान अवश्य होगा कि श्राद्ध सही समय पर ही करने चाहिए। पितृ आपके किये गए श्राद्ध को तभी भोग पाते हैं जब श्राद्ध कर्म उसी समय किया जाये जब उसका मुहूर्त है। पितृ दोष से पीड़ित अधिकतर लोग ये जानने का प्रयास करते रहते हैं कि पितृ दोष से मुक्ति के उपाय क्या हैं। पितृ दोष निवारण के सरल उपाय खोजने से पहले ये जान लें कि श्राद्ध के दिनों में सही समय, मुहूर्त पर तथा सही विधि द्वारा किया गया श्राद्ध कर्म ही सुफल दे सकता है और ये याद रखें कि आपको पितृदोष से मुक्ति दिलाएगा ये छोटा सा उपाय। श्राद्ध करने की सही विधि हमने आपको अपने दूसरे लेख ऐसे करें श्राद्ध, बनेंगे रुके हुए काम, होगी उन्नति (सम्पूर्ण श्राद्ध विधि) में बताई है। यहां हम आपको बता रहे हैं कि श्राद्ध का सही समय क्या है। नीचे एक सारणी दी गई है जिसमें 24 सितम्बर, 2018 से प्रारम्भ होकर 09 अक्टूबर, 2018 तक चलने वाले श्राद्ध की सूची दी गई है।  

 

वार्षिक श्राद्ध विधि, प्रथम वर्ष श्राद्ध, श्राद्ध का अर्थ, गया श्राद्ध विधि, श्राद्ध पक्ष 2018, श्राद्ध 2018, श्राद्ध का अर्थ, वार्षिक श्राद्ध, पितृ अमावस्या, पितृ पक्ष 2018, सराद कब से है 2018
यदि आप पितृ दोष निवारण का सरल उपाय खोज रहे हैं तो याद रखें सही समय तथा सही विधि से श्राद्ध करने का उपाय ही आपको पितृ दोष से मुक्ति दिलाएगा

इस श्राद्ध में होंगी जीवन की सभी बाधाएं दूर

यदि ऐसे करेंगे श्राद्ध