अच्छी नौकरी पाने के लिए क्या करें?

आज कल के दौर में अच्छी नौकरी पाने के लिए युवाओं को बहुत ही कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। आजकल के युवाओं को देख कर ही पता चलता है कि वह एक अच्छी नौकरी चाहने के लिए कितने प्रयत्न करते हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आप अच्छी नौकरी पाने के लिए क्या करें?

क्या करें यदि अच्छी नौकरी की तलाश में हैं? (what to do if looking for a good job?)

कैसे रहें सुरक्षित मेट्रो, ट्रेन या बस में यात्रा करते समय

अच्छी नौकरी पाने के लिए कुछ सुझाव (some tips for getting a good job)

विश्वविद्यालयों एवं अन्य शैक्षणिक संस्थानों में से अनेक डिग्री तथा अनेकों डिप्लोमा लेकर कितने ही युवक-युवतियां निकल रहे हैं।और अपने उज्जवल भविष्य की उम्मीद करते हुए एक अच्छी नौकरी ढूंढ रहे हैं। इसमें चिंता का विषय यह है कि अपने आपको अन्य की अपेक्षा अच्छी नौकरी पाने के इच्छुक उम्मीदवारों से बेहतर कैसे बनाया जाए। कि हजारों की भीड़ में से कंपनी उस नौकरी के लिए आप का ही चयन करें। आइये जानते हैं कि एक अच्छी नौकरी पाने के लिए क्या करें तथा इसके लिए किन बातों का ध्यान रखें। इस विषय में नीचे दी गई विशेषज्ञों की राय से अधिक विस्तार से जानते हैं।

1. बायोडाटा को प्रभावशाली बनायें (make biodata effective)

अच्छी नौकरी प्राप्त करने के लिए सर्वप्रथम आप को अपना बायोडाटा तैयार करना पड़ता  है। बायोडाटा या रिज्यूमे (resume, biodata) का अर्थ है अपने द्वारा दी गई अपनी सारी जानकारी। जिसमें आपका वर्तमान कार्यस्थल, स्थायी पता, पढाई, जन्म-दिनांक, पिता का नाम, राष्ट्रीयता, आप का मोबाईल नम्बर, ई-मेल आईडी आदि सारी जानकारी जो सत्य हो को साफ़-साफ़ दर्शायें। क्योंकि अच्छी नौकरी पाने के लिए आपका बायोडाटा आपके प्रथम प्रदर्शन (first impression) का एक आइना है, जो कि किसी भी संस्थान में आपके कार्य प्रदर्शन को दिखलाता है।

आपकी योग्यता को इसी के माध्यम से सर्वप्रथम जाना जाता है। यदि आपके बायोडाटा में आपके विषय में वो सारी सूचना है जो आपको नौकरी देने वाला आपके बारे में जानना चाहता है तो आपको इंटरव्यू के लिए बुलावा आना तय है। यदि नौकरी पाने के लिए इस स्तर पर प्रस्तुति आकर्षक है तो आप नौकरी पाने की प्रथम सीमा को आसानी से पार कर लेंगे।

शिक्षक दिवस और उसका हमारे जीवन में महत्व

2. कवर लेटर से बुलावा (call off cover letter)

कवर लैटर एक माध्यम है पढने वाले का ध्यान अपनी और खींचने का तथा नौकरी देने वाले से सीधा बात करने का। कवर लेटर दूसरा माध्यम है जिसकी सहायता से आप कंपनी से सीधे तौर पर मिले बिना अपनी छाप छोड़ सकते हैं और आशा कर सकते हैं कि आपको कंपनी से बुलावा आ जायेगा। याद रहे कि अच्छी नौकरी पाने के लिए ये ज़रूरी है कि आप अपने कवर लेटर को लिखते समय इन बातों का विशेष तौर से ध्यान रखें।

  1. कवर लेटर लिखते समय शब्दावली एवं भाषा का विशेष तौर पर ध्यान रखें।
  2. व्याकरण (grammar) की छोटी सी गलती भी आपका बायोडाटा कूड़ेदान में फिंकवा सकती है। यदि लेटर में भाषा शैली में व्याकरण की गलतियां हैं तो कंपनी आप को रिजेक्ट करने में देर नहीं करेगी।
  3. प्रयास करें कि कवर लेटर ज्यादा बढ़ा ना हो, बल्कि कम शब्दों में आपके उस कार्य के प्रति समर्पण भाव की झलक दिखनी चाहिए, जिस कार्य के लिए आपने आवेदन किया है।
  4. कवर लेटर एक ऐसा माध्यम है कि आप कंपनी से मिले बिना अपना प्रभाव उन पर छोड़ सकते हैं, कि आप इस कार्य को करने के लिए समर्पित है।

लेकिन फिर भी सब कुछ कवर लेटर में ही नहीं लिख दे, बल्कि सीधे साक्षात्कार इंटरव्यू के लिए भी कुछ बचा कर रखें।

3. सोशल मीडिया है आपका आइना  (social media is your mirror)

अच्छी नौकरी पाने के लिए ये भी ज़रूरी है कि आप सोशल मीडिया के अपने एकाउंट्स को ज़रा संभल कर चलायें। ध्यान रहे कि सोशल मीडिया जैसे (फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम आदि) ये बहुत ही एक्टिव हो चुका है। कुछ वर्ष पहले आप की छवि और चरित्र का आकलन आपको देखकर ही लगाया जाता था। लेकिन आज के इस कंप्यूटर एवं इन्टरनेट के युग में हर व्यक्ति कहीं ना कहीं किसी ना किसी से जुड़ा हुआ है। आप को यह ज्ञात होना आवश्यक है कि कंपनी के रेक्रुइटर इंटरव्यू के लिए बुलाने से पहले कंडीडेट का सोशल मीडिया प्रोफाइल भी चेक करते हैं। इसलिए यदि आपने कहीं भी नौकरी के लिए अप्लाई किया है, तो अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल को चेक कर लें वरना आपकी नौकरी में रुकावट पैदा हो सकती है। यहाँ तक कि अच्छी नौकरी पाने के लिए आपकी की हुई सारी मेहनत ख़राब हो सकती है।

अपने पति को खुश रखने के ये हैं 15 अचूक उपाय

4. संपर्क का जादू (magic of contact)

नौकरी ढूँढने में आपके कॉन्टेक्ट्स आपके बहुत काम आ सकते हैं। एक रिसर्च के मुताबिक तो नेटवर्किंग के द्वारा नौकरी पाने के आसार भी बहुत बढ़ जाते हैं। अच्छी नौकरी पाने के लिए यह एक बहुत ही प्रभावी औजार की तरह से कार्य करता है। यदि आपको कभी भी व्यापार क्षेत्र से जुड़े लोगों से मिलने का मौका मिले तो उसे कभी ना गवाएं। क्योंकि व्यापार क्षेत्र में अच्छी तरक्की कर चुके लोगों से मिलने का आपको काफी लाभ हो सकता है। आजकल नौकरी के लिए आवेदन करते समय 35 से 55 फ़ीसदी नौकरियां रैफरल माध्यम से ही भरी जाती है। इसलिए लोक व्यवहार एवं मेलजोल रखते हुए नेटवर्किंग के इस जादू को पहचानें जो आपको अच्छी नौकरी दिलवाने में मददगार साबित हो सकते हैं।

5. इंटरव्यू के बाद सतर्कता जरूरी (vigilance is necessary after the interview)

एक इंटरव्यू देने के बाद हिम्मत न हारें। इंटरव्यू देने के बाद हाथ पर हाथ धरकर ना बैठे रहें। बल्कि अच्छी नौकरी पाने के लिए और भी जगह पर नौकरी पाने का प्रयास करते रहें। ऊपर बताए गए पॉइंटस की मदद से आप नौकरी पाने की पहली सीढ़ी पर तो चढ़ ही जाएंगे। यदि आप किसी कंपनी में इंटरव्यू देने के बाद फॉलोअप को लेकर जागरुक नहीं होंगे तो आपको नौकरी मिलने के चांस कम हो जाएंगे।

याद रहे कि इंटरव्यू में आप का रिजल्ट तैयार करते समय कई चीजों को ध्यान में रखा जाता है। आपसे की गई बातचीत, आपका व्यक्तित्व एवं बोलचाल का तरीका। इन बातों को ध्यान में रखते हुए ही यह सुनिश्चित किया जायेगा कि आप उस पद के लिए कितने योग्य हैं। क्योंकि एक कहावत है कि ‘मन के हारे हार है, मन के जीते जीत’ इसलिए एक जगह ही इंटरव्यू देने के बाद हिम्मत ना हारें और लगातार प्रयत्न करते रहें।

नोट : अच्छी नौकरी पाने के लिए उन्हें निरंतर प्रयास करने पड़ते हैं। दिन-ब-दिन नौकरियों के क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा बढ़ती ही जा रही है। क्योंकि यदि किसी एक पद के लिए कोई स्थान रिक्त होता है तो उसके लिए हजारों की संख्या में उम्मीदवार खड़े हो जाते हैं। इसलिए आपसे अनुरोध है कि अच्छी नौकरी पाने के लिए अपना प्रयत्न जारी रखें। आपने पिछले इंटरव्यूह में यदि कोई गलती की है तो उसे दुबारा ना दोहरायें। क्योंकि गलतियों से ही हमें सीख मिलती है। आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी यदि आप अच्छी नौकरी की तलाश में हैं से सम्बंधित ये सुझाव कैसे लगे। आप अपने विचार कमेन्ट बॉक्स में जरूर लिखें।

हमारा ब्लॉग 

By ताजेंदर सिंह

भारतीय युद्ध कलाओं में मेरी रुचि शुरू से ही काफी रही है। घर की दीवार पर टंगा नॉनचक मुझे हमेशा चिढ़ाता रहता है। अलग अलग मार्शल आर्ट्स के बारे में जानने की ललक मुझमें हमेशा से ही रही। कई अलग अलग मार्शल आर्ट्स के बारे में मैं अक्सर रिसर्च करता रहता हूँ। जब भी कुछ नया सामने आता है तो कोशिश करता हूँ कि उसे एक लेख के रूप में पिरो कर आपके सामने रखूँ। इसमें युद्ध कलाओं की अधिकता होती है लेकिन इसके अलावा भी अगर मुझे कुछ लिखने का मौका मिले तो मैं चूकता नहीं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *