akshay kumar, akshay kumar age, fitness tips
अक्षय कुमार हैं बॉलीवुड में सबसे फिट

अक्षय कुमार के फिटनेस के मंत्र (Akshay Kumar’s fitness mantra)

अक्षय कुमार बॉलीवुड (Bollywood) के एक ऐसे विख्यात हीरो हैं, जो अपनी बढ़ती हुई उम्र में भी फिट और जवान नजर आते हैं। अक्षय कुमार एक ऐसे अभिनेता हैं जो कि बॉलीवुड जगत में अच्छी-अच्छी फिल्मों के साथ-साथ मार्शल-आर्ट और अपनी फिटनेस को लेकर हमेशा चर्चा में बने रहते हैं। यह खाली समय को व्यर्थ में न व्यतीत कर अलग-अलग प्रकार की कसरत फ्री टाइम के हिसाब से करना पसंद करते हैं।

अक्षय कुमार का कहना है कि अगर आप कसरत तथा योग नहीं कर पाते हैं, तो अपने आप को फिट रखने के लिए कम से कम 1 घंटे का मॉर्निंग वॉक जरूर करना चाहिए। आपको यह बात जानकर हैरानी होगी कि, अक्षय कुमार अपने आप तथा अपने शरीर को फिट रखने के लिए जिम नहीं जाते हैं। वह बॉडी बनाने के लिए किसी भी प्रकार के सप्लीमेंट का प्रयोग नहीं करते। तो दोस्तों आइए आज हम आपको बॉलीवुड की धड़कन अक्षय कुमार के फिटनेस के बारे में बताने जा रहे हैं। अगर आप भी अक्षय की तरह अधिक उम्र में जवान, हैंडसम और अपनी बॉडी बनाना चाहते हैं, तो अक्षय द्वारा दिए गए इन टिप्स को पढ़ें और अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

समय का उपयोग :

अक्षय कुमार सुबह सूर्योदय होने के साथ ही सो कर उठ जाते हैं। नित्य प्रति सुबह स्विमिंग के साथ-साथ मार्शल आर्ट की प्रैक्टिस करते हैं। इसके उपरांत अक्षय कुमार 1 घंटे तक मेडिटेशन करते हैं। उनका कहना है कि सुबह सूर्योदय के समय उठ जाने से मन शांत और शरीर में लगने वाली ठंडी हवा पूरे दिनचर्या को खूबसूरत बना देती है। अक्षय को लेट नाइट पार्टी में जाना बिल्कुल भी पसंद नहीं है। रात में 10:00 बजे तक वह बिस्तर में सोने के लिए चले जाते हैं। उनका मानना है कि अच्छे स्वास्थ्य के लिए पूरी नींद का होना भी बहुत जरूरी है।

अपने श्री कृष्ण से बात करें: श्री कृष्ण शलाका प्रश्नावली के माध्यम से

खेल-कूद : 

अक्षय कुमार थोड़े ही टाइम के लिए पर रोजाना अपना स्टेमिना बरकरार रखने के लिए बास्केटबॉल के साथ-साथ, किकबॉल, रनिंग जैसे खेल अपनी रूटीन में शामिल करते हैं।

डाइट पर विशेष ध्यान :

अक्षय कुमार डाईट में बहुत ही कम वसा वाले भोजन ग्रहण करते हैं। इसके साथ में वह ताजे फल और हरी सब्जियां अधिक मात्रा में अपनी डाइट में शामिल करते हैं। अक्षय कुमार बाहर होटल के खाने को बिल्कुल भी पसंद नहीं करते। उन्हें अपने घर का वह भी मां के हाथ का बना खाना बहुत अच्छा लगता है। उनका मानना है कि घर का खाना पौष्टिक तत्वों से भरपूर और शुद्ध भी होता है। इसके साथ ही अक्षय जंक-फूड को खाना पसंद नहीं करते। अक्षय सोने से 2 घंटे पहले रात का भोजन कर लेते हैं। उनका कहना है कि ऐसा करने से हमारी पाचन क्रिया ठीक रहती है, और अनावश्यक चर्बी हमारे शरीर में नहीं बन पाती है।

व्यायाम:

अपने कार्य को समाप्त करने के बाद अक्षय कुमार अपनी फिटनेस में व्यस्त हो जाते हैं। उनका मानना है कि प्राकृतिक तरीके से फिटनेस बनाने से शरीर स्वस्थ और मजबूत होता है। ऐसा करने से इंसान ज्यादा उम्र में भी स्मार्ट दिखता है। इसलिए जितना हो सके कसरत करें, व्यायाम करें, योग करें, मेडिटेशन करें, और प्राकृतिक रूप से अपने स्मार्टनेस को बरकरार रखें। जैसा कि उन्होंने अपने आप को इतनी उम्र में भी फिट रखा है।

सप्लीमेंट पाउडर को ना : 

अक्षय कुमार का मानना है कि लोग अपनी बॉडी बनाने के लिए बहुत सारे सप्लीमेंट का प्रयोग करते हैं। वह कहते हैं कि यह गलत है। सप्लीमेंट पाउडर से आप अपने शरीर को खराब कर लेते हैं, यह सप्लीमेंट पाउडर हमारे शरीर के लिए हानिकारक होता है। अक्षय का कहना है कि पहले के दिनों में लोग सिर्फ दूध, हरी सब्जियां फल और ब्राउन चावल खाकर अपने शरीर के साथ-साथ मसल्स बना लेते थे, और हमेशा वैसे के वैसे ही फिट और तंदुरुस्त बने रहते थे। तो आज हम क्यों नहीं ऐसा कर सकते हैं।

भोजन करने का सही समय :

अक्षय का कहना है कि रात का भोजन जल्दी करना चाहिए, और रात में मीठा बिलकुल भी नहीं खाना चाहिए। रात के समय जल्दी खाना खाने से हमारे शरीर को भोजन पचाने के लिए उसे 3 से 4 घंटे का समय लगता है जो आराम से मिल जाता है। अगर हम खाने के तुरंत बाद सो जाते हैं तो हमारे पेट को खाना पचाने में  मशक्कत करनी पड़ती है, और ऐसे में पेट में दिक्कत शुरू हो जाती है। इसलिए खाना जल्दी खाएं और खाना खा कर टहलने की कोशिश करें। 

धूम्रपान से परहेज :

अक्षय कुमार के फिटनेस का राज धूम्रपान का ना करना। अक्षय का कहना है कि जो मनुष्य धूम्रपान करता है ऐसे में वह कभी भी लम्बे समय तक फिट नहीं रह सकता। धूम्रपान करने की वजह से स्टैमिना कमजोर हो जाता है, और स्वास्थ्य के साथ-साथ शरीर की फिटनेस भी खराब हो जाती है। इसीलिए अक्षय कुमार धूम्रपान नहीं करते और इतनी बड़ी उम्र में आज भी फिट और जवान दिखते है।

ये भी पढ़ें: भारत आजकल (India These Days)