13 खाद्य पदार्थ गर्मियों में रखेंगे आपको स्वस्थ

दोस्तों गर्मी का मौसम चल रहा है। इस मौसम में स्वास्थ्य लाभ के लिए कई प्रकार के फल-सब्ज़ियां एवं जूस आदि होते हैं। यह खाद्य पदार्थ विशेष तौर पर इस मौसम में लाभदायक होते हैं। यह पदार्थ हमें ठंडक पहुंचाने के साथ-साथ हमारे स्वास्थ्य को भी ठीक रखते हैं। आइये हम आपको ऐसे 13 खाद्य पदार्थ गर्मियों में रखेंगे आपको स्वस्थ से अवगत कराते हैं। जो कि गर्मी में हमारे लिए अत्यंत लाभकारी हो सकते हैं।

1. इन फलों का जूस या रस रखेगा तरोताज़ा (the juice of these fruits will keep refreshing)

गर्मी के मौसम में कई प्रकार के फल और उनका रस हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक होते हैं। इस मौसम में जिन फलों का रस या जूस सर्वाधिक लाभदायक होता है। वह फल हैं तरबूज, ख़रबूज़ा, संतरा, मौसमी, अनार , आम एवं गन्ना। इनका सेवन शरीर को चुस्त एवं स्फूर्तिदायक रखता है। आंतरिक रूप से शरीर में ठंडक बनी रहती है और थकान भी नहीं होती। गर्मी के मौसम में प्रत्येक व्यक्ति को दिन में कम से कम दो गिलास जूस अवश्य पीना चाहिए। इसमें कई प्रकार के विटामिन होते हैं। जैसे कि – विटामिन बी-1, बी-2, बी-3, बी-5 और बी-6 की प्रचुर मात्रा उपलब्ध होती है जो कि हमारे शरीर को रोगों से मुक्त रखती है।

2. खीरा खाने से होगा ये असर (cucumber eating)

गर्मी के मौसम में खीरा अवश्य खाएं। खीरा खाना गर्मियों में हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक माना जाता है। क्योंकि यह 96% पानी से भरपूर होता है और हमारे शरीर को पानी की कमी होने से बचाता है। खीरे का जूस भी पाचन-शक्ति के लिए अच्छा रहता है। खीरे का जूस पेट-सम्बन्धी समस्याओं जैसे कि गैस, कब्ज़, बदहज़मी आदि को दूर करता है। खीरे में कई प्रकार के विटामिन जैसे कि विटामिन बी-6, विटामिन बी-1, विटामिन सी, विटामिन ए, विटामिन डी और साथ ही पोटाशियम, फास्फोरस, आयरन आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं। गर्मी में हमारे शरीर के पोषक तत्व अधिक खर्च होते हैं। इनकी कमी से कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। ये समस्याएं खीरे में मौजूद विटामिन्स और पोषक तत्व दूर करते हैं। इसलिए खीरे का प्रयोग गर्मी के मौसम में खासतौर पर लाभदायक माना गया है।

3. गुलाब के फूल का ऐसे करें सेवन (rose flower should eat such food)

आप घर पर गुलाब के फूलों से गुलकंद बना सकते हैं। ये गुलकंद बाजार में भी मिलती है। गुलकंद का सेवन गर्मी के मौसम में हमें ठंडक पहुंचाता है। यह हमारे शरीर को डिहाइड्रेशन से बचाता है, और पेट को ठंडक पहुंचाता है। इसमें ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जिनसे हमारी त्वचा भी सुन्दर बनी रहती है। इसमें कई महत्वपूर्ण विटामिन जैसे कि विटामिन बी, विटामिन ई और विटामिन सी भी पाए जाते हैं। यह विटामिन्स गर्मी में होने वाले कई प्रकार के रोगों से हमें बचाते  हैं। इसमें ‘एंटी-ऑक्सीडेंट्स’ की मात्रा अधिक होने के कारण यह हमारे शरीर को रोगों से लड़ने के प्रति शक्ति प्रदान करता है। गुलकंद को खाने से तनाव एवं थकान से मुक्ति मिलती है। यदि गुलकंद को ठन्डे दूध में मिलकर पिया जाए तो यह लाभदायक होता है। यह पेट सम्बन्धी दोष भी दूर करता है। इससे कब्ज़ की समस्या भी दूर होती है। अधिकांश तौर पर इसे भोजन के पश्चात खाया जाता है। यह एक अच्छा माउथ-फ्रेशनर भी होता है।

4. नारियल पानी बचा लेता है इन बिमारियों से (coconut water saves these diseases)

गर्मियों के मौसम में नारियल पानी पीना हमारी सेहत के लिए एक वरदान है। यह एक ऐसा पेय है जो कि इस मौसम में शरीर में होने वाली पानी की कमी को पूरा करता है। यह डेंगू, मलेरिया या डाईरिया आदि हो जाने पर भी शरीर को स्वस्थ रखता है। विशेषतौर पर इन बिमारियों में हमारे रक्त में मौजूद ‘प्लेटलेट्स’ की संख्या कम होने लगती है, जिसे पूर्ण करने के लिए नारियल पानी पीने की सलाह दी जाती है। इसके साथ ही ‘कीवी’ का फल भी प्लेटलेट्स को बढ़ाता है। कीवी का योग गर्मी के मौसम में लाभकारी होता है। यदि आपको कोई रोग नहीं है तो भी नारियल पानी को गर्मी के मौसम में अवश्य पीएं। यह एक अत्यंत स्वास्थय-वर्धक पेय है।

गर्मी के मौसम में पैरों को कैसे रखें सुरक्षित

5. दही और लस्सी का सेवन रखे शरीर को ठंडा (the body consumed with curd and lassi cold)

वैसे तो दही का सेवन हर मौसम में किया जाता है। विशेषतौर पर गर्मी के मौसम में दही, छाछ या मट्ठा जिसे कि लस्सी भी कहते हैं। इसका सेवन स्वास्थ्य की दृष्टि से उत्तम माना जाता है। लस्सी और दही दोनों अत्यंत पौष्टिक आहार हैं। भोजन के साथ दही से बने बूंदी-रायता का प्रयोग पेट को ठीक रखता है। दही और लस्सी दोनों में शरबत डालकर पीना पेट के लिए काफी लाभप्रद होता है। इससे शरीर को ठंडक मिलती है। इसमें भी कई प्रकार के पोषक तत्व होते हैं जैसे कि प्रोटीन, पोटाशियम, विटामिन बी और कैल्शियम। यह गर्मी में हमारे शरीर को शक्ति प्रदान करते हैं। इनको पीने से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है, और शरीर तंदुरुस्त-बलवान रहता है। दोपहर के भोजन के साथ दही एवं लस्सी अवश्य लें।

6. सलाद खाएं, प्रोटीन पाएं (eat salad, get protein)

गर्मी के मौसम में हमारी भूख कम होने लगती है। इस मौसम में रोटी, चावल या सब्ज़ी आदि खाने की इच्छा भी कम हो जाती है। इसलिए हमें भोजन के साथ-साथ सलाद का भी प्रयोग करना चाहिए। सलाद में पानी की मात्रा 95% तक होती है। इसमें प्रोटीन की मात्रा अधिक और वसा या फैट बिलकुल कम होने की वजह से यह शरीर को स्वस्थ रखता है। सलाद में अधिकांश ककड़ी, खीरा, प्याज, चुकुन्दर, टमाटर आदि का प्रयोग इस मौसम में स्वास्थ्य की रक्षा करता है।

7. पुदीना रस करेगा औषधि का काम (peppermint juice will work in medicine)

पुदीना एक ऐसी औषधि है जिसकी पत्तियों का रस हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक है। गर्मी के मौसम में दही में पुदीना डालकर खाना भी पाचन-शक्ति को दुरुस्त रखता है। यह स्वादिष्ट होने के साथ-साथ एक अच्छा माउथ-फ्रेशनर भी है। इसके पत्तों को कूटकर थोड़ा अनारदाना डालकर बनाई गयी चटनी आपकी भूख को भी बढाती है। पुदीना पाचन-क्रिया को भी ठीक रखता है। पुदीना को जलजीरा एवं गन्ने के रस में भी डालकर पिया जाता है, ये भी शरीर को ठंडक पहुंचाता है।

8. नींबू पानी दे स्फूर्ति, भगाये गर्मी (lemonade gives energy, fleeing heat)

नींबू एक ऐसा फल है हर मौसम में ही लाभदायक है। लेकिन गर्मी के मौसम में नीम्बू पानी की शिकंजी बनाकर पीना हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। नीम्बू पानी हमारे शरीर में पानी की कमी को पूरा करके महत्वपूर्ण लवणों की कमी नहीं होने देता। यह भी गर्मी में एक शक्ति-वर्धक पेय है। नींबू पानी बहुत जल्दी ताज़गी देकर थकान मिटा देता है।

 

गर्मी में चेहरे की त्वचा झुलसने से कैसे बचाएं

9. सत्तू का सेवन गर्मी का रामबाण उपाए (sattu intake heat sesame solution)

सत्तू एक ऐसा स्वास्थय-वर्धक पेय है जो कि विशेष-तौर पर गर्मी में ही पिया जाता है। गेहूं, जौं और भुने हुए चने को पीसकर इसके मिश्रण से इसे तैयार किया जाता है। इसको पीने से पेट की गर्मी शांत होती है, और शरीर को ठंडक मिलती है। इसको बनाते समय इसमें गुड़-शक्कर, नमक के अलावा मसाले डालकर भी तैयार किया जाता है। इसको पीना गर्मियों में किसी अन्य कोल्ड-ड्रिंक पीने से ज्यादा लाभकारी है।

 

10. आइसक्रीम के बिना गर्मी अधूरी (summer without ice cream incomplete)

गर्मी के मौसम में यदि आइसक्रीम ना हो तो गर्मी एकदम फीकी सी लगेगी। वास्तव में यह एक ऐसा पदार्थ है जो कि गर्मी में अधिक खाया जाता है। यह कोई जंक फ़ूड ना होने की वजह से शरीर को अधिक नुक्सान नहीं पहुंचाता। आइसक्रीम बनाने में ड्राईफ्रूट, दूध, क्रीम, चॉक्लेट आदि का प्रयोग किया जाता है। लेकिन इसमें कैलोरी और शुगर की मात्रा अधिक होने की वजह से इसे कम ही खाना चाहिए। यदि इसमें ताज़ा फल काटकर, मिलाकर खाएं तो यह स्वस्थ रखेगी। अधिक ठण्डी होने की वजह से ये गले को नुक्सान पहुंचा सकती है। इसलिए एक सीमा के अंदर रहकर इसका आनंद लें और स्वस्थ रहें।

11. लौकी का जूस कर देगा काया पलट (gourd juice)

लौकी का नाम सुनते ही अक्सर हम नाक-भों  सिकोड़ने लगते हैं। यह सब्ज़ी कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होती है। इसमें जल की मात्रा भी अधिक होती है, जो की शरीर में पानी की कमी नहीं होने देती। इसमें कई पोषक तत्व जैसे कि विटामिन सी, विटामिन ए, कैल्शियम, मैग्नीशियम आदि मौजूद होते हैं। लौकी का जूस भी इस मौसम में शरीर के लिए बहुत ही लाभकारी होता है।

12. प्याज का सेवन बचाये लू से (onion saved from Lu)

वैसे तो प्याज एक महत्वपूर्ण सब्ज़ी है। प्याज का प्रयोग पूरे वर्ष ही सब्ज़ियों में और सलाद में किया जाता है। लेकिन गर्मी के मौसम में इसका प्रयोग विशेषतौर से लाभकारी होता है। इसको नियमित रूप से सेवन करें तो आप लू लगने से बच सकते हैं। गर्मी में अक्सर होने वाली बिमारियों से भी प्याज हमें बचाता है। प्याज को स्वाद के तौर पर भी प्रयोग किया जाता है। इसका प्रयोग बर्गर, चाट, सलाद आदि में भी किया जाता है। गर्मियों में यह एक रामबाण औषधि माना जाता है।

13. आम पन्ना गर्मी का एक अच्छा पेय (aam panna a good drink in summer)

आम पन्ना भी गर्मी में ही पिया जाने वाला एक पेय है, जो कि कच्चे आम से बनाया जाता है। गर्मी में प्रतिदिन कम से कम दो गिलास इसे पीना पाचन शक्ति को बढ़ाने के साथ-साथ लू से भी बचाता है। यह पेट सम्बन्धी समस्याओं का भी निवारण करता है।

गर्मियों के मौसम में कैसे रहें स्वस्थ

तो दोस्तों गर्मी के मौसम में भी यदि स्वस्थ रहना हो तो यह 13 खाद्य पदार्थ गर्मियों में रखेंगे आपको स्वस्थ को अपनी भोजन- शैली में शामिल करें और स्वस्थ रहें। अपने सुझाव आप नीचे कमेंट बॉक्स में दें। हम इस वेब पत्रिका को और भी अधिक बेहतर बनाने का प्रयास कर रहे हैं।

By ताजेंदर सिंह

भारतीय युद्ध कलाओं में मेरी रुचि शुरू से ही काफी रही है। घर की दीवार पर टंगा नॉनचक मुझे हमेशा चिढ़ाता रहता है। अलग अलग मार्शल आर्ट्स के बारे में जानने की ललक मुझमें हमेशा से ही रही। कई अलग अलग मार्शल आर्ट्स के बारे में मैं अक्सर रिसर्च करता रहता हूँ। जब भी कुछ नया सामने आता है तो कोशिश करता हूँ कि उसे एक लेख के रूप में पिरो कर आपके सामने रखूँ। इसमें युद्ध कलाओं की अधिकता होती है लेकिन इसके अलावा भी अगर मुझे कुछ लिखने का मौका मिले तो मैं चूकता नहीं।

1 comment

  1. Lee and Larrʏ ƅeloved their sixth birthday party. Though they were twins,
    Mommy and Daddy all the time made sure they each һad a particular time.
    And with their birthdays coming in December, Mommy and Daddy additionally at аll times made certain their ƅirthdayѕ were special even thoսgh Christmas waѕ rigһt across the corner.
    The get tοցether was so fun with a clown and cake and
    sоngs and wonderful presents from their buddies and grandparеnts
    and uncle and aunts. It went by so fast bսt before they knew іt, everybody had gone dwelling and it was time to clean up and prepare
    for bed.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *