फिटकरी के अनोखे औषधीय गुण, unique medicinal properties of alum, पोटेशियम एलुमिनियम सल्फेट, potassium aluminium sulphate, use of alum, benefits of alum, problems with teeth and gums, गले में खराश और दर्द होने पर, if sore throat and pain, नाक से खून निकलने पर, नकसीर होने पर, what to do if hemorrhoids occurs, आंखों की समस्या में, if there is any problem in the eyes, ठंड के मौसम में हाथ में खुजली और सूजन होना, itching and swelling in the hands of cold weather, हाथ या पैरों में पसीना आना, sweating in hands or feet, बार-बार गर्भपात का होना, if abortion is happening again and again, फिटकरी के अन्य उपयोगी गुण, other useful benefits of alum, सांप द्वारा काटे जाने पर, what to do on snake bite, बिच्छू के द्वारा डंक मारने पर, What to do if scorpions stings,
फिटकरी एक अनमोल औषधि है

फिटकरी (alum) एक ऐसा पदार्थ है, जो अक्सर हर घर में चाहे थोड़ी मात्रा में ही पर जरूर पाया जाता है। फिटकरी एक रंगहीन, गंधहीन, पदार्थ है, फिटकरी (alum) का रासायनिक नाम “पोटेशियम एलुमिनियम सल्फेट (potassium aluminium sulphate)” है। फिटकरी को बाहर के देशों में अंग्रेजी में “ऐलम” कहा जाता है। आज हम आपको फिटकरी के लाभ के बारे में बताएंगे।

फिटकरी का उपयोग (use of alum)

दोस्तों वैसे कहने के लिए फिटकरी एक साधारण पदार्थ है, लेकिन यह हमारे जीवन में बहुत सारे कार्य करती है, जैसे पानी साफ करना, कागज के उद्योग में प्रयोग होना, त्वचा को साफ़ रखने में, चोट लगने पर, इस प्रकार के फिटकरी के लाभ हैं, जिनका हम कई प्रकार से प्रयोग कर सकते हैं।

फिटकरी से होने वाले लाभ (benefits of alum)

1. दांतों और मसूड़ों की समस्या (problems with teeth and gums)

अगर किसी को दांतो और मसूड़े का रोग है जैसे पायरिया, मसूड़ों में से खून आना, मसूड़े का फूल जाना, दांतों में दर्द होना और दांतों का हिलना इत्यादि। ऐसे में थोड़ी सी फिटकरी में नमक मिलाकर अपने मसूड़ों पर सुबह उठकर तथा रात को सोते समय हल्के हाथों से मालिश करें। फिटकरी के लाभ से आपके दांत व मसूड़ों से सभी रोग दूर हो जाते हैं।

2. शरीर में कहीं भी चोट लग जाने पर (if there is injury in the body anywhere)

फिटकरी का उपयोग चोट लग जाने पर भी किया जाता है। अगर आपको कहीं भी चोट लग गई हो, और रक्त का बहना रुक नहीं रहा है। ऐसे में थोड़ी सी फिटकरी लेकर उसे पानी में घोलकर चोट वाले स्थान को फिटकरी वाले पानी से धोएं। ऐसा करने से खून का बहना बंद हो जाएगा। अगर आप चाहें तो पानी की जगह फिटकरी का पाउडर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

3. गले में खराश और दर्द होने पर (if sore throat and pain)

अगर आपके गले में दर्द (throat pain) है, तो एक गिलास गर्म पानी में फिटकरी मिलाकर इस पानी से गले का गरारा करने से गले के दर्द में बहुत आराम मिलता है और इसके साथ-साथ आपका गला और दांत भी साफ हो जाते हैं।

आँखों की रौशनी बढ़ाने के आसान तरीके

4. नाक से खून निकलने पर (नकसीर होने पर) (if hemorrhoids occur then do it)

अगर आपके नाक से खून निकल रहा है, तो आप किसी समतल स्थान जैसे तखत या बेड पर सीधे लेट जाएं। अब फिटकरी को पानी में घोलकर घोल बनाकर उसमें सूती कपड़े को भिगोकर ललाट पर रखिए। नाक से खून का आना बंद हो जाता है। इसके साथ ही गाय और भैंस के कच्चे दूध में फिटकरी को पीसकर मिलाकर सूंघे। गर्म पानी में फिटकरी डालकर दिन में कम से कम 2 से 3 बार पीयें। ऐसा करने से आप के नाक से खून आना बंद हो जाएगा और नकसीर नामक बीमारी समाप्त हो जाएगी।

5. आंखों की समस्या में (if there is any problem in the eyes)

अगर आपकी आंखों में बार बार कीचड़ आता है। आंखों से धुंधला दिखाई देता है। आंखें लाल हो जाती हैं या आंखों में दर्द होता है। तो इन समस्यायों को ठीक करने के लिए आँखों में डालने वाला गुलाबजल लें उसमें 50 ग्राम फिटकरी पीसकर डालें, फिर इस फिटकरी मिले गुलाब जल को किसी बोतल में भरकर रख लें, और इसे एक-एक बूंद सुबह और शाम डालें ऐसा करने से आंखों को ठंडक मिलती है। आंखों में उत्पन्न सभी रोग समाप्त जाते हैं, तथा आंखों की रोशनी भी बढ़ जाती है।

6. ठंड के मौसम में हाथ में खुजली और सूजन होना (itching and swelling in the hands of cold weather)

अक्सर देखा जाता है कि महिलाओं के हाथों में ठंड के मौसम में बार-बार पानी लगने से हाथ की उंगलियों में सूजन के साथ हाथों में खुजली होने लग जाती है। ऐसी स्थिति में फिटकरी आपके लिए रामबाण जैसा कार्य करती है। पानी को फिटकरी के साथ उबाल कर उस उबले हुए पानी से अपने उंगलियों और हाथों को धोएं। ऐसा करने से हाथों में ठंड का प्रभाव समाप्त हो जाता है, तथा आपकी हाथ और ऊँगली की सूजन के साथ-साथ होने वाली खुजली भी समाप्त हो जाती है।

दाँतों में होने वाली समस्यायों का रामबाण उपचार

7. हाथ या पैरों में पसीना आना (sweating in hands or feet)

जिन व्यक्तियों को गर्मी के मौसम में हाथ और पैरों में पसीना आता है, ऐसे में ठंडे पानी में फिटकरी को घोलकर इस घोल से अपने हाथों और पैरों को लगातार कुछ दिनों तक धोना चाहिए। ऐसा करने से हाथ और पैर में पसीना आना बंद हो जाएगा।

8. बार-बार गर्भपात का होना (if abortion is happening again and again)

अगर आप गर्भपात की समस्या से परेशान है, तो अब कोई चिंता करने की जरूरत नहीं है। आप एक कप कच्चा दूध लें और इसमे लगभग एक चौथाई चम्मच फिटकरी पाउडर डालकर अच्छे से मिलाकर पीयें। बार-बार गर्भपात होना रुक जाएगा। अगर आपको गर्भपात के समय बेचैनी के साथ-साथ दर्द और खून आ रहा है, तो दूध में फिटकरी मिलाकर हर 2 घंटे के अंतराल पर थोडा-थोडा पीएं। इसे पीने से आपको आराम मिलेगा।

9. फिटकरी के अन्य उपयोगी गुण (other useful benefits of alum)

दोस्तों फिटकरी एक ऐसा उपयोगी पदार्थ है जिसे हम अपने जीवन में बहुत जगहों पर उपयोग करते हैं। जैसे शेव करने के बाद चेहरे पर लगाते हैं। आंवले का मुरब्बा बनाने में फिटकरी का प्रयोग करते हैं। अगर आपके सिर में जुएं पड़ गई हैं तो फिटकरी वाले पानी से अपने सर को धोएं। ऐसा करने से सिर्फ जुएं ही नहीं आप के सर से गंदगी भी समाप्त हो जाती है।

गर्म पानी पीने के फायदे

10. सांप द्वारा काटे जाने पर (what to do on snake bite)

यदि सांप काट ले तो जल्दी से फिटकरी को पानी में घोलकर पिलाने से सांप का विष प्रभावहीन हो जाता है। (चिकित्सक से परामर्श अवश्य करें)

11. बिच्छू के द्वारा डंक मारने पर (What to do if scorpions stings)

यदि बिच्छू डंक मार ले तो उसका ज़हर बहुत ज्यादा दर्द देने वाला होता है। जिस स्थान पर बिच्छू ने डंक मारा है, उसी स्थान पर पानी के साथ फिटकरी का लेप बनाकर लगाने से बिच्छू का विष भी समाप्त हो जाता है। (चिकित्सक से परामर्श अवश्य करें)

हमारा उद्देश्य है आपको स्वास्थ्य के प्रति सचेत करना। दोस्तों फिटकरी के लाभ के बारे में हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी आपको कैसी लगी। अपने सुझाव कमेन्ट बॉक्स में अवश्य लिखें।